HealthNews Alert

जनता कर्फ्यू क्या है? – Janta Curfew in Hindi

भारत के प्रधानमंत्री के द्वारा 19 March 2020 को लगाए जाने वाले जनता कर्फ्यू की वजह से काफी अफरा तफरी मच गयी है. लोग अपने घरों में काफी मात्रा में सामान stock करके रख रहे है जिसकी वजह से लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. Janta Curfew Hindi क्या है इसको जानना बहुत जरुरी है जिससे आप दूसरों को भी इसके बारे में समझा सकें.

जनता कर्फ्यू क्या है? – Janta Curfew in Hindi

Corona  Virus यानी COVID-19 की रोकथाम के लिए भारत सरकार ने काफी अहम कदम उठाये है. जिसमें से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी लोगों से अपील की है की 22 मार्च से जनता कर्फ्यू लागू किया जाएगा.

जनता कर्फ्यू क्या है? - Janta Curfew in Hindi
जनता कर्फ्यू क्या है? – Janta Curfew in Hindi

अब बात आती है की आखिर ये जनता कर्फ्यू क्या है.

आसान भाषा में कहें तो यह जनता के द्वारा जनता के लिए खुद पर लगाया गया कर्फ्यू है जिसमें कोई भी धारा शामिल नहीं है. प्रधानमंत्री के द्वारा अनुरोध किया गया है की सभी लोग मिलकर इस बीमारी की रोकथाम के लिए अपने आप पर कर्फ्यू लगाये और इस बीमारी को फैलने से बचाए.

इसके लिए सभी देशवासियों से अनुरोध है की वो सुबह 7 बजे से लेकर रात को 9 बजे तक अपने घर से बाहर ना निकलें.

क्या करें जनता कर्फ्यू में

  • किसी भी ऐसे स्थान पर जाने से बचें जहाँ बहुत ज्यादा भीड़ होती है.
  • मंदिर, शादी स्थल, मस्जिद, चर्च, हॉस्पिटल, स्कूल, ट्यूशन सेण्टर पर जाना एक बार के लिए स्थगित करें.
  • कोरोनावायरस के संदेह में डॉक्टर से सम्पर्क करें और ज्यादा हालत खराब होने पर खुद को अपने घर वालों से दूर रखें और डॉक्टर या नजदीकी सरकारी हॉस्पिटल में इसकी खबर दें.
  • अफवाहों से बचें.
  • कोरोनावायरस से डरें नहीं बल्कि इसका समझदारी से सामना करें.
  • जब तक सरकार की तरफ से कोई सुचना नहीं मिलती ऐसी अफवाहों से बचें क्योंकि डर भी आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को कम कर देता है.
  • जनता कर्फ्यू के बारे में अपने रिश्तेदारों और सगे सम्बन्धियों को जरुर सूचित करें.
  • घर बेठे काम कर पाना सम्भव है तो बाहर जाने से बचें.
  • किसी भी सामान को खरीदने से पहले अपने मुंह पर कपडे का इस्तेमाल करें और घर आने के बाद उसे गर्म पानी में धोएं.
  • अपने हाथों को खाना खाने से पहले जरुर धोएं.
  • अगर आपकी आदत बार बार मुहं पर हाथ लगाने या नाक छूने की है तो आप इस आदत को बदलने की कोशिश करें.
  • शाम को 5 बजे सभी लोग दरवाजे या खिडकियों पर खड़े होकर ताली या फिर घंटी जरुर बजाएं. ये किसी तरह के कोरोनावायरस के लिए नहीं है बल्कि उन लोगों के लिए है जो दिन रात इस बिमारी की वजह हॉस्पिटल, एअरपोर्ट और स्पेशल सर्विसेज में काम कर रहे है ताकि उनको हमारा साथ महसूस हो.

प्रधानमन्त्री जनता को सम्बोधित करते हुए

आज इस आर्टिकल में हमने आपको Janta Curfew Hindi के बारे में बताया है. अगर आपका कोई सवाल या सुझाव है तो आप नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में कमेंट करें

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close