Health Tips

केकड़ा सेब खाने के फायदे और नुकसान

केकड़ा सेब एक ऐसा फल है जो हिमाचल प्रदेश में पाया जाता है। यह लाल रंग का होता है, इसका स्वाद मीठा और खट्टा भी होता है. यह फल हर रोज एक खाने से आप डॉक्टर से दूर रहेंगे तो आइए नीचे हम आपको बताएँगे की केकड़ा सेब खाने के फायदे और क्या-क्या नुकसान है।- Crab Apple khaane ke Fayade aur Nuksan

केकड़ा सेब खाने के फायदे और नुकसान
केकड़ा सेब खाने के फायदे और नुकसान

 

Contents hide
1 केकड़ा सेब खाने के फायदे- Crab Apple Benefit

केकड़ा सेब खाने के फायदे- Crab Apple Benefit

केकड़ा सेब के फायदे वजन को घटाने के लिए- Crab Apple Benefit for Vajan Ghtaane

अगर आप मोटापे का शिकार है तो आप रोज 1 केकड़ा सेब का सेवन करे, इससे आपका मोटापा दूर हो जाएगा। इसमें उपस्थित लोहे के तत्व होते है जो हमारे शरीर को मजबूत कर देते है। केकड़ा सेब में कैलोरी अधिक मात्रा में होती है और इससे मिली शर्करा पाचन क्रिया को बढ़ाता है। शोध से पता चलता है कि केकड़ा सेब में ग्रैनी स्मिथ बैक्‍टीरिया होता है जो आंतों के लिए अनुकूलित होता है। यह मोटापे और उससे संबंधित अन्‍य रोगों को रोकने में मदद कर स‍कता है। तो आप केकड़ा सेब का सेवन करने से वजन घटाने में हो सकता है फायदा

केकड़ा सेब करे कैंसर के खतरे को दूर- Crab Apple Benefit for Cancer

हर रोज एक केकड़ा सेब सुबह-सुबह खाया जाये तो कैंसर की समस्या दूर हो सकती है। अगर कैंसर का रोगी इसको रेगुलर खाये तो इससे भी बहुत फायदा हो सकता है। केकड़ा सेब अपने एंटीओक्सीडेंट और सूजन कम करने वाले गुणों की वजह से कैंसर के खतरे को कम कर सकता है। केकड़ा सेब हर प्रकार के कैंसर को रोकने में सहायक होता है जैसे पेट, जिगर, स्तन और फेफड़ों के कैंसर को कम कर सकता है और यह कैंसर की कोशिकाओं को खत्म भी कर देता है।

पाचन क्रिया को ठीक रखता है केकड़ा सेब- Crab Apple Benefit for Paachan Kriya

केकड़ा सेब का सेवन करने से पाचन तंत्र ठीक रहता है और यह आंतों के काम काज में मदद करता है। इसमें उपस्थित पोषक तत्‍व पेट की अन्‍य समस्‍याओं जैसे कि अल्‍सर, गैस्ट्राइटिस और अम्‍लता को रोकने में सहायक हो सकता है। केकड़ा सेब का नियमित सेवन करने से दस्‍त और पेंचिश से बचा जा सकता है। पेट से संबंधित बीमारीयों से निजात पाने के लिए केकड़ा सेब का नियमित और संतुलित आहार जरूर करना चाहिए। केकड़ा सेब का सेवन पाचन तंत्र को ठीक करने में सहायक होता है।

केकड़ा सेब के फायदे हो सकते है मस्तिष्क के लिए- Crab Apple Benefit For Mind Health

केकड़ा सेब बी-कॉम्‍प्‍लेक्‍स विटामिन का अच्‍छा उत्‍पादक होता है। जो मस्तिष्‍क में जीएबीए (GABA) न्‍यूटॉन के रासायनिक स्‍तर को संतुलित करता है। जिससे तनाव, चिड़चिड़ापन और अवसाद आदि में कमी आती है। यह पार्किंसंस की बीमारी को रोकने में सक्षम होता है। इसलिए अपने मस्तिष्‍क को स्‍वस्‍थ बनाए रखने के लिए नियमित रूप से केकड़ा सेब को आहार के रूप में खाना चाहिए।

केकड़ा सेब मधुमेह रोग को करता है दूर- Crab Apple Benefit Madhumeh

केकड़ा सेब का सेवन करने से ब्लड शुगर नियंत्रित रहता है क्योंकि केकड़ा सेब पाचन प्रक्रिया और कार्बोहाड्रेटस के अवशोषण को प्रभावित करता है और रक्त प्रवाह में सुधार लाता है। इसमें आप केकड़ा सेब का रस पी सकते है। यह इंसुलिन के उत्पाद को भी ज्यादा बढ़ाता है। एक अध्ययन में पाया गया है, की जो लोग एक सप्ताह में 10 या 15 केकड़ा सेब खाते है, उनको मधुमेह होने की समस्या 10% कम हो जाती है।

केकड़ा सेब आँखों के लिए फायदेमंद होता है- Crab Apple Benefit for Eye

केकड़ा सेब में बहुत ज्यादा मात्रा में एंटी ओक्सीडेंटस पाया जाता है। जो मोतियाबिन्द, आखों में पानी आने, आँखों का लाल होना, आखों की अलर्जी, आँखों में सूजन आदि खतरों को दूर करने में हमारी मदद केकड़ा सेब करता है। इसलिए एक दिन में 3 से 4 केकड़ा सेब का जरूर सेवन करना चाहिए।

केकड़ा सेब दांतों के लिए होता है फायदेमंद- Crab Apple Benefit for Teeth

केकड़ा सेब के सेवन से आपके दांतों में मजबूती मिलती है। क्योंकि केकड़ा सेब में ज्यादा मात्रा में फाइबर होता है और इसमें एंटीवायरल पायी जाती है। जो बैक्टीरिया और वाइरस को दूर करती है और यह मसूड़ों में खून आना या मसूड़ों का सूज जाना इन समस्याओं को ठीक करने में केकड़ा सेब हमारी मदद करता है। केकड़ा सेब हमारे दांतों को सफेद रखने में भी मदद करता है।

कब्ज को दूर करने के लिए फायदेमंद केकड़ा सेब है- Crab Apple Benefit in Kabaj

कब्ज को दूर करने के लिए आप 2 से 3 केकड़ा सेब का सेवन कर सकते है। केकड़ा सेब में सोर्बिटोल नामक तत्व पाया जाता है, जो की कब्ज को दूर करने में मदद करता है, तो आप केकड़ा सेब का सेवन उसका जूस बनाकर भी कर सकते है और केकड़ा सेब में लैक्टिक एसिड पाया जाता है, वह भी कब्ज की समस्या को रोकने में मदद करता है।

केकड़ा सेब चर्म रोग को दूर करता है- Crab Apple Benefit For Skin Infection

केकड़ा सेब एक ऐसा फल है जो स्वादिष्ट होता है और यह हमारी त्वचा के लिए बहुत लाभकारी होता है। त्वचा के रोग जैसे फोड़े, फुंसिया, इनसे लड़ने में हमारी मदद केकड़ा सेब करता है. अगर आप इसका पेस्ट इस्तेमाल करे तो बहुत अच्छा है क्योंकि केकड़ा सेब से ज्यादा अच्छा आपको इसका पेस्ट मिलेगा यह मुंह पर आई सूजन को भी दूर करता है। इसलिए आपको दिन में 2 या 3 केकड़ा सेब का सेवन करना बहुत जरूरी होता है।

हृदय के लिए भी है फायदेमंद केकड़ा सेब- Crab Apple Benefit For Heart

केकड़ा सेब में सोडियम और पोटेशियम का अच्‍छा संतुलन होता है जो हमारे शरीर में रक्‍तचाप के कम या ज्‍यादा होने पर उसे नियंत्रित करता है। केकड़ा सेब में उपस्थित मैग्‍नीशियम हृदय की मांसपेशियों को फैलने में मदद करता है, साथ ही ऐंठन को कम करने में मदद करता है। इस तरह यह दिल के दौरा और स्‍ट्रोक से हमारी रक्षा करता है।

केकड़ा सेब में नियासिन और फाइबर, खराब कोलेस्‍ट्रोल को कम करने के साथ अच्‍छे कोलेस्‍ट्रोल को बढ़ाने का काम करते है। दो केकड़ा सेब रोजाना खाने से या फिर केकड़ा सेब का 12 औंस जूस पीने से दिल की बीमारी से संबन्धित मौत का खतरा ज्यादा से ज्यादा खत्म हो जाता है।

अस्थमा रोग दूर कर सकता है केकड़ा सेब- Crab Apple Benefit for Asthma

आप केकड़ा सेब का मीठे स्वाद का आनंद लेते है तो आप अस्थमा रोग के लक्षणों एवं इसके गुणों से लड़ सकते है। केकड़ा सेब में फ्लैवोनाइड्स एवं फेनालिक एसिड होता है। जो वायुयान में यात्रा करने वाले व्यक्तियों को सूजन आ जाती है उस सूजन को कम कर सकता है.

केकड़ा सेब फेफड़ों और प्रतिरक्षा प्रणाली को स्वस्थ बनाने में भी सहायता करता है। यह अस्थमा रोग से पीड़ित व्यक्ति को सही ढंग से सांस लेने में सहायता करता है। वैज्ञानिकों का मानना है की जो लोग एक सप्ताह में 10 से 12 केकड़ा सेब खाते है, उनका अस्थमा रोग 50% कम हो जाता है। क्योंकि केकड़ा सेब अस्थमा रोग को जड़ से खत्म कर देने वाला फल है और एक बात याद रखे की खट्टा केकड़ा सेब अस्थमा रोग में ना खाएं।

गठिया के रोग में है फायदेमंद केकड़ा सेब- Crab Apple Benefit for Gathiya

केकड़ा सेब में मैग्‍नीशियम की अच्‍छी मात्रा शरीर में, पानी और जोड़ो से निकलने वाले एसिड को नियंत्रित करता है। मैग्‍नीशियम गठिया और गठिया के लक्षणों को कम करने में लाभकारी होता है।

केकड़ा सेब खाने के नुकसान

केकड़ा सेब के बीज सबसे खतरनाक होते है कैसे

केकड़ा सेब के बीज एक व्यक्ति के लिए बहुत नुकसान देह होते है और यह एक स्वस्थ व्यक्ति को बीमार व्यक्ति बना सकता है। अगर आप केकड़ा सेब के बीज का सेवन अधिक करते है तो यह आपके लिए मृत्यु का कारण बन सकता है।

केकड़ा सेब में एक ऐसा पदार्थ होता है जिसका नाम सायनाइड है। यह ज़्यादातर केकड़ा सेब में पाया जाता है। यह मनुष्य के जीवन के लिए बहुत ही खतरनाक होता है। इसलिए आप लोग इस बात का प्रण ले की केकड़ा सेब खाएँगे तो बीज कभी नहीं खाएँगे

दांतों के लिए नुकसानदेह होता है केकड़ा सेब

अगर आप केकड़ा सेब का सेवन ज्यादा का रहे है। तो आपको दांतों को सावधान रखना होगा क्योंकि केकड़ा सेब खाने से दांतों का पीला होना, दांत खराब होना जैसी समस्या हो सकती है, क्योंकि आप जो केकड़ा सेब खाते हैं उसमें कई ज्यादा मात्रा में अम्ल होता है। यह आपके दांतों के लिए बहुत ज्यादा हानिकारक भी हो सकता है। इसीलिए आप केकड़ा सेब का सेवन ज्यादा ना करे

केकड़ा सेब का जूस कर सकता है नुकसान

केकड़ा सेब जितना ही फायदेमंद है। उतना ही इसका जूस नुकसानदेह भी है और इससे मनुष्य के स्वास्थ्य के लिए बहुत सी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है इसीलिए आप इसका जूस ना पिए यह आपके सेहत के लिए बहुत ही हानिकारक हो सकता है क्योंकि इसमें बहुत ज्यादा मात्रा में कार्बोहाइड्रेट मौजूद होते हैं जो आपके शरीर में पेट कि कई समस्या को बढ़ा सकता है जैसे पेट दर्द दस्त आदि समस्या हो सकती है।

फ्रिज में रखे हुए केकड़ा सेब का सेवन कभी ना करें

हम लोग केकड़ा सेब का सेवन इसीलिए करते हैं क्योंकि इसमें बहुत ज्यादा मात्रा में पौष्टिक तत्व होते हैं। जिससे हमारे शरीर में बहुत ज्यादा फायदा होता है। लेकिन अगर हम केकड़ा सेब को फ्रिज में रखते हैं तो उसके पौष्टिक तत्व फ्रीज में नष्ट हो जाते हैं और केकड़ा सेब खाने योग्य नहीं रहता है और इससे कई सारी बीमारियां भी हो सकती है इसलिए आप कभी भी फ्रीज में केकड़ा सेब ना रखें.

तो आज हमने इस आर्टिकल में आपको बताया कि सेब केकड़ा खाने के फायदे और नुकसान केकड़ा सेब को सही खाने का तरीका केकड़ा सेब का जूस बनाने की विधि तो हमारा आर्टिकल आपको पसंद आया तो Like करें Comment करें और Share करना ना भूलें।

तो हमारे आर्टिकल में आपको कोई दिक्कत या कोई परेशानी हो तो आप नीचे Comment Box में Comment करके हमसे पूछ सकते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close