Hindi TutorialsSEO Tutorials in Hindi

SEO in Hindi – SEO क्या है?

SEO Tutorial in Hindi Part 2

आज हम आपको SEO in Hindi – SEO क्या है?  के बारे में बताने जा रहे है। इससे पहले हमने आपको SEO के Introduction के बारे मे बताया था हमे उम्मीद है कि आपको हमारी वो Post समझ मे आ गई होगी तो आइये हम आगे आपको बताते हैं कि SEO क्या है?

SEO in Hindi

अगर आप किसी भी Website पर काम करते हैं तो आपको पता ही है कि हमारे लिए First Page पर जाना कितना जरूरी है मतलब हमारी Post अगर 1st Page पर Show होती है तो ही हमारी Post लिखने का Benefit है.

इसकी सबसे बड़ी वजह CTR का है क्योंकि कोई भी Visitor google Browser मे कुछ भी Search करता है तो वह सिर्फ और सिर्फ 1st Page की Post पर visit करता है और उनमे भी Top 3 पर।

SEO in Hindi - SEO क्या है?

हम भी यही चाहते हैं कि हमारी Post भी 1st Page पर Open हो और वो भी Top 3 में ताकि हमारी Post पर बहुत सारे Visitors आए लेकिन आपको भी पता है ये इतना आसान नहीं होता है तो इसे आसान बनाने के लिए हमे SEO को अच्छे तरीके से Optimization करना बहुत जरूरी है तो सबसे पहले तो हम आपको बताते हैं कि SEO क्या है?

What is SEO Hindi – SEO क्या है?

SEO की Full Form है – Search Engine Optimization । आपने Search Engine के बारे मे तो सुना ही होगा क्योंकि हम जो भी Search करते हैं वो Search Engine की मदद से ही सर्च करते हैं मतलब हमारे पास सबसे Popular Search Engine Google है जिसे आज के समय मे सबसे ज्यादा Use किया जा रहा है।

Google के अलावा हमारे पास कुछ और Search Engine है जैसे Yandex और bing जिसमे आपने देखा होगा कि अगर हम कुछ भी Search करते हैं तो वो चीज़ हमे 1st page पर ही दिखा देता है।

जब भी हम सर्च करे तो कुछ ना कुछ रिजल्ट आते है लेकिन क्या आपको पता है कि वो अलग-अलग Blog से आती है जिसमे से जो सबसे ऊपर Show करता है वो 1st Position पर होता है जिसे हम सबसे ज्यादा Open करते हैं तो हम भी यही चाहते हैं कि हमारी Post भी first Page और Top पर आए तो इसके लिए SEO ही हमारी मदद करता है।

SEO एक ऐसी तकनीक है जो आपके Website के Pages को Google Search Engine में 1st rank पर Open करवाता है जिसमे आपके Pages पर सबसे ज्यादा Visitors आते हैं।

Search Engine Optimization बिलकुल Traffic Rules की तरह होता है जैसे Traffic को सुचारु रूप से चलाने के लिए हमे roadmap की जरूरत होती है ताकि लोगों को किसी भी समस्या का सामना न करना पड़े और वह जल्दी से अपना सही रास्ता चुन कर अपने Target तक पहुँच सके।

उसी तरह से SEO भी एक Search Engine Traffic Rules है जिसकी मदद से बहुत ही जल्द उन्हे सही Target को Provide करता है जिसे हम SEO ( Search Engine Optimization ) का नाम देते हैं।

How SEO Works in Hindi – SEO कैसे काम करता है?

हमें यह पता होना बहुत जरुरी है की SEO कैसे काम करता है। इसके लिए हम एक example लेते है।

मान लें आप एक Library चलाते है और आपके customer आपसे books मांगते है और आप जल्दी से उनके मांगी गयी book उनको देते है। यह आप कैसे करेंगे? इसके लिए आपको अपने books को content के हिसाब से manage करना होगा।

जितनी भी books related होती है उनको आप एक category में रखते है जिससे आप जल्दी से आप उनको उनकी मनचाही book बिना समय लगाये दे सके।

इसी तरह से Google Search Engine और Bing Search Engine एक Librarian की तरह काम करता है। जब भी कोई यहाँ कुछ सर्च करता है तो वो अपने Algorithm के हिसाब से आपको best Result Provide करता है।

यहाँ Algorithm को एक Recipe की तरह मान सकते है जो की एक Secret Recipe होती है जिसकी मदद से वह Search Engine Best Result आपको दिखता है।

अब आपके पास कोई वेबसाइट है जिस पर आप कुछ sell करते है या फिर कोई service प्रोवाइड करवाते है तो आपके Position यहाँ matter करती है जिससे आप ज्यादा विजिटर को अपने वेबसाइट पर ला सकते है। जैसे की ग्राफ में दिखाया गया है।

CTR as per Google poition
(Source – Backlinko।com)

अपने वेबसाइट को as a best result रैंक करवाने के लिए आपको Search engine के Algorithm को फॉलो करना होता है। इसी Algorithm के follow करने के स्टेप्स को हम Search Engine Optimization यानी SEO कहते है।

इसमें कुछ common technique है जैसे Words, Title, Links और Reputation जिनको आपको हर Webpage पर फॉलो करना होता है।

अब कोई user Search Engine पर कुछ सर्च करता है जैसे “Best Headphone Under Rs 500” तो उनको लगभग सभी सर्च इसी से related दिखता है ना की यह सर्च करने पर आपको best Shoe Under Rs 500 दिखाएगा। तो इस तरह से Search engine के Algorithm द्वारा Best Result दिखाए जाते है।

Types of SEO – SEO के प्रकार

जैसे की हमने आपको optimization efforts के हिसाब SEO के प्रकार के बारे में बताया है। अब हम आपको इसके main types के बारे में बताने जा रहे है।

  • White Hat
  • Black Hat
  • Grey Hat
  • Negative

White Hat

यह SEO की ऐसी technique है जिसमें हम Google Webmaster Guidelines को फॉलो करते हुए सभी SEO tactics का इस्तेमाल करते है।

इस technique में समय और पैसा दोनों ही ज्यादा लगते है लेकिन इसमें webmaster के द्वारा penalize होने के चांस बहुत कम होते है।

Black Hat

यह SEO की ऐसी technique है जिसमें हम Google Webmaster Guidelines के खिलाफ काम करते हुए सभी tactics का इस्तेमाल करते है।

इस तरीके से जल्दी वेबसाइट पर काफी मात्रा में Visitor लाये जा सकते है।

इस technique में समय और पैसा दोनों ही कम लगते है लेकिन इसमें webmaster के द्वारा penalize होने के चांस बहुत ज्यादा होते है।

जब भी Google के Algorithm में update होगा तो इस तरह की वेबसाइट की या तो रैंकिंग बहुत कम हो जायेगी या फिर उनको penalize कर दिया जाएगा। इस तरह हर साल 500 से 600 Website को penalize किया जाता है।

Grey Hat

अगर हम इस Technique की बात करें तो यह White Hat और Black Hat के बीच की technique है जिसमें कुछ हद तक Google Webmaster Guidelines के खिलाफ काम किया जाता और कुछ हद तक Google Webmaster Guidelines को फॉलो भी किया जाता है।

इसमें समय और पैसा दोनों ही कम लगते है लेकिन इसमें webmaster के द्वारा penalize होने के चांस White Hat से ज्यादा होते है।

Negative

यह एक तरह की Technique ही होती है जिसमें आप अपने competitor की website पर Grey Hat और Black Hat का इस्तेमाल करते हुए उनकी website पर Search Intent को नुकसान पहुंचाते है।

इस Technique से किसी भी competitor की website की search position और Ranking को नीचे लाया जा सकता है।

SEO के लिए क्या करें?

  •  सर्च इंजन में अपनी वेबसाइट को ऑप्टिमाइज करने के लिए आपको कम से कम 200 से 300 वर्ड के पेज बनाने होंगे.
  • आपको अपनी वेबसाइट का sitemap बना करके उसको सर्च इंजन पर सबमिट करना है.
  • अपनी वेबसाइट में Help, FAQ, About Us, Link to Us, Copyright, Disclaimer, Privacy Policy pages जैसे सभी जरूरी आपको add करने होंगे.
  • आपको अपनी वेबसाइट पर नेविगेशन में होम पेज का लिंक देना होगा ताकि आपके visitor आपके होम पेज पर विजिट कर सके.
  • आपको अपनी वेबसाइट पर Broken Link को चेक करना है जिससे आपकी वेबसाइट की रैंक सही बनी रहे.

SEO के लिए क्या ना करें

  • जब भी आपको ही वेब पेज लिखे तो आप उसमें कोई भी Hidden Text ना रखें.
  • किसी Spam कीवर्ड का इस्तेमाल ना करें.
  • अपनी वेबसाइट के पेज पर ज्यादा ग्राफिक का इस्तेमाल ना करें.
  • वेबसाइट पर फ्रेम और फ्लैश का इस्तेमाल ना करें.
  • अपनी वेबसाइट पर किसी भी गलत कीवर्ड का इस्तेमाल करके अपने विजिटर को बेवकूफ ना बनाएं.
  • किसी भी दूसरी वेबसाइट से कॉपी करके अपने वेबसाइट पर कंटेंट ना लिखें.
  • अपनी वेबसाइट को एक से ज्यादा बार सर्च इंजन सबमिट ना करें.
  • अगर आप अपनी वेबसाइट पर सब-डायरेक्टरी use कर रहे हैं तो एक या दो से ज्यादा सब डायरेक्टरी की लिस्ट ना रखें.
  • कम से कम डायनेमिक पेज बनाए, ज्यादातर स्टैटिक पेज का इस्तेमाल करें.

Conclusion

इस प्रकार हमारे पास जो SEO in Hindi होता है वो हमारे Website के Webpages को 1st Page और 1st rank पर show करता है। हम उम्मीद करते हैं कि आपको SEO क्या है? ये समझ मे आ गया होगा लेकिन अगर आपको अभी भी कुछ Doubt है तो हमे Comment कर के पूछ सकते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close