Article

टेलीग्राम का आविष्कार किसने किया?

आज इस आर्टिकल में हम आपको टेलीग्राम का आविष्कार कसने किया इसके बारे में जानकारी देंगे-

टेलीग्राम एप WhatsApp की तरह एक मैसेजिंग ऐप है. जिसके ऊपर अकाउंट बनाने के लिए आपको सिर्फ एक मोबाइल नंबर की जरूरत पड़ती है अकाउंट बनाने के बाद में आप आप किसी के भी पास फोटो वीडियो डॉक्यूमेंट भेज सकते हैं लेकिन उसके पास भी टेलीग्राम का अकाउंट होना चाहिए इसमें WhatsApp वाले लगभग सभी फीचर मिलते हैं सिर्फ ऑडियो वीडियो कॉल का फीचर इसमें आप को नहीं मिलता. टेलीग्राम की सभी सर्विस आपको बिल्कुल Free मिलती है इसे आप चाहे तो अपने इंटरनेट ब्राउज़र में भी इस्तेमाल कर सकते हैं या आप अपने मोबाइल में भी इसकी Android ऐप का इस्तेमाल कर सकते हैं.

टेलीग्राम क्या है

टेलीग्राम एक मशीन है जिसका उपयोग दूरसंचार के लिए किया जाता है.यह एक ऐसा इलेक्ट्रोनिक मशीन है, जोकि किसी भौतिक वस्तु के आदान-प्रदान के बजाय हि संदेश को दूर तक संप्रेषित करता है. टेलीग्राम की अपनी एक अलग पुस्तिका होती है, जहां पर संदेश भेजने के लिए शब्दों के बजाय कोड का इस्तेमाल किया जाता है. सरल शब्दों में कहे तो किसी भी संदेश या समाचार को एक जगह से दूसरी जगह भेजने या प्राप्त करने वाले मशीन को ही टेलीग्राम कहा जाता है.

टेलीग्राम इतिहास

मानव के जीवन में संचार की बहुत ही अधिक महत्ता है. आज हम चंद सेकेण्ड में ही पूरी दुनिया से जुड़ जाते हैं, और यह सब संभव हो पाया है आधुनिक संचार साधनों के माध्यम से. संचार ने अपनी गति तब पकड़ी जब टेलीग्राफी (Telegraphy) का आविष्कार हुआ तथा विद्युतीय टेलीग्राफी के आविष्कार से संचार और भी अधिक व्यापक हो गया. विद्युतीय टेलीग्राफ का व्यावसायिक उपयोग 1838-1843 के आसपास इंग्लैंड में और 1844 में अमेरिका (मोर्स द्वारा) में शुरू हुआ. इसके सम्बंध में दो प्रमुख चिंताएँ लागत और गोपनीयता थी. इस जरूरत को कोड (Code) समूहों (यानी, कोड शब्द या कोड संख्या) की सहायता से शब्द, वाक्यांश और यहां तक कि पूर्ण वाक्य को बदलकर, वाणिज्यिक कोड या निजी कोडबुक (Codebook) द्वारा पूरा किया गया. (भले ही कोडबुक (Codebook) प्रकाशित किए गए थे,

लेकिन उन्होंने टेलीग्राफ ऑपरेटरों (Operators) से गोपनीयता प्रदान थी). टेलीग्राम लागत को और कम करने की इच्छा ने विभिन्न प्रकार के कोडों को जन्म दिया, जो या तो नियमों में खामियों का लाभ उठाते या अक्सर नियमों के खिलाफ होते. इस तरह के अनियमित अभ्यास को इतना व्यापक रूप दिया गया कि उन्हें आधिकारिक तौर पर अंत में स्वीकार कर लिया गया.

टेलीग्राम का आविष्कार किसने किया ?

मोस वी टेलीग्राफ प्रणाली में अमरीका के एडिसन, जर्मनी के वनर साइंमेस तथा इग्लैंड के विलियम ने काफी सुधार किए. एक अंग्रेज सर चार्ल्स व्हीटस्टोन ने सन्‌ 1867 मे तेज रफ्तार की एक स्वचालित प्रणाली का आविष्कार कर तार-संदेश के क्षेत्र में एक महत्त्वपूर्ण विकास
किया. उनके यंत्र में एक छिद्गरण मशीन की व्यवस्था थी. छिद्रण मशीन से आपरेटर छिद्ग काटता था, जो कि कागज की रील में मास-संकेतो को दर्शाता जाता था. इस रील को एक ट्रांसमीटर में लगा दिया जाता था जो छिद्रों का विद्युत सवगा में बदलता रहना था. रिसीवर में मास-संकेत वास्तविक संदेश में बदल जाते थे. इसके बाद फ्रांस के एक तार अधिकारी बादा ने मल्टीग्लक्स (बहधारा) तार-प्रणाली का आविष्कार किया. टेलीग्राफ के आविष्कार और विकास के साथ वैज्ञानिकों ने दूरस्थ स्थानों तक संदेश भेजने के लिए प्रयोग में आने वाले तारों की समस्या कम करने की कई विधियां खोजी क्‍यांकि अधिक देरी के लिए तार और समय लगाना बहुत जटिल और मंहगा काम था.

वैज्ञानिकों ने एक ही तार से संदेश लाने ले जाने की विधि ढूंढ़ी. उसके बाद एक ही तार पर दो फिर अनेक संदेश भेजे जाने की विधियां भी विकषित कर ली गयी. 1816 में रोनाल्ड्स (Ronalds) द्वारा एक पर्याप्त दूरी पर पहली प्रयोगात्मक प्रणाली इलेक्ट्रोस्टैटिक (Electrostatic) थी, जिसे रोनाल्ड्स ने ब्रिटिश नौवाहन विभाग को पेश किया, लेकिन इसे अनावश्यक रूप में अस्वीकार कर दिया गया. 1844 के उत्तरार्ध के बाद, विद्युत तार के उपयोग में आने के बाद, नौवाहन विभाग के ऑप्टिकल (Optical) टेलीग्राफ का उपयोग किया गया. पहला व्यावसायिक टेलीग्राफ कुक और व्हीटस्टोन ने 10 जून 1837 के अपने अंग्रेजी पेटेंट (Patent) के बाद किया था. अधिकांश प्रारंभिक विद्युत प्रणालियों को कई तारों की आवश्यकता थी, लेकिन मोर्स और वेल द्वारा संयुक्त राज्य में विकसित की गई प्रणाली एकल-तार प्रणाली थी.

टेलीग्राम का आविष्कार कब हुआ?

टेलीग्राम का आविष्कार सन, 1844 में सैम्युअल मोर्स द्वारा किया गया था. इन्होने सबसे पहले वाशिंगटन और बॉल्टिमोर के बीच तार के माध्यम से सफलतापूर्वक संदेश भेजा था. और उसके बाद इन्होने टेलीग्राम का सार्वजनिक रूप से प्रदर्शन किया. 19 वीं शताब्दी के दौरान इलेक्ट्रोनिक टेलीग्राम का आविष्कार किया गया.

“WWW का आविष्कार किसने किया”

टेलीग्राम क्या काम करता है?

टेलीग्राम मुख्य रूप से किसी भी संदेश को एक जगह से दूसरी जगह इलेक्ट्रिक करंट के माध्यम से भेजने या प्राप्त करने का काम करता है.

टेलीग्राम किस देश का एप्प है?

टेलीग्राम का आविष्कार दो Russian भाइयों द्वारा किया गया मतलब कि टेलीग्राम एक Russia का एप्प है.

आज इस आर्टिकल में हमने आपको टेलीग्राम का आविष्कार किसने किया इसके बारे में जानकारी दी है और इसको लेकर अगर आपका कोई सवाल या सुझाव हो तो हमे कमेंट करे.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close