Web Hosting क्या होती है?

Spread the love

आज हम आपको बताएँगे कि Web Hosting क्या होती है? शायद आपने Hosting के बारे मे तो सुना ही होगा जो Bloggres के लिए बहुत ही ज्यादा जरूरी है और अगर आपने इसके बारे मे नहीं भी सुना है या फिर आप इसके बारे मे पूरी detail जानना चाहते हैं.

Web Hosting क्या होती है?
Web Hosting क्या होती है?

आज हम आपको Hosting के बारे मे पूरी Information देंगे. जब भी हम Internet पर Blog या Website बनाते हैं तो हमे दो चीजों की बहुत ही ज्यादा जरूरत पड़ती है, सबसे पहले तो हमे Domain की जरूरत पड़ती है और दूसरा हमे Hosting की भी जरूरत पड़ती है तो अगर आप भी New Bloggers हैं तो आपको भी Hosting की जरूरत पड़ेगी और इसीलिए आपको भी इसके बारे मे पूरी Information होनी चाहिए. वैसे तो Hosting को खरीदना कोई बड़ी बात नहीं है लेकिन अच्छा Hosting कहाँ से purchase करना है ये जानना आपके लिए बहुत ही ज्यादा जरूरी है.

Read This -> अपने Domain Name को Hosting से कैसे जोड़े?

Web Hosting क्या है?

अगर आप Internet पर कोई भी Blog या Website बनाते हैं तो आप जो भी data को तैयार करते हैं उसे Store करने के लिए आपको जो Space चाहिए उसे हम Web Hosting कहते हैं.

जब हम Internet मे Hosting खरीदते हैं तो हमे Internet मे हमे एक Space भी मिलता है जहाँ Website या Blog Active रहता है जिससे लोग हमारे Blog या Website को देखते हैं उसे हम Domain कहते हैं.

यह हमारे Website की Images, Videos और Files को एक Special Computer पर Store रखता है जिसे हम Web Server भी कह सकते हैं. Web Hosting की बहुत सारी कंपनी होती है जैसे Godaddy, Hotgater, Bluehost etc. जिसे हम Web Host भी कह सकते हैं.

Web Hosting काम कैसे करता है?

अगर हम कोई भी वेबसाइट बनाएँगे तो इसका Aim यही होता है कि हम अपनी Knowledge और Information को People मे बांटे, तो उसके लिए हमें अपनी Files को Web Hosting पर Upload करना पड़ता है, ऐसा कर लेने के बाद जब भी कोई Internet Users आपके Domain Name को Type करेगा तो Internet आपके Domain Name को Web Server से जोड़ देता है. उसके बाद जैसे ही कोई भी Users आपकी Website को open करता है तो उसके सामने सारा Matter Show कर देता है.

Types of Web Hosting

अगर आप जानना चाहते हैं कि Web Hosting कितने प्रकार की होती है तो हम आपको बता देते हैं कि हमारे पास Hosting चार प्रकार की होती है.

1. Shared Web Hosting

अगर आप अपने Hosting को Share करके use करना चाहते हैं तो भी कर सकते हैं. क्योंकि अगर आप new Bloggers हैं तो आपको भी पता है कि इतनी जल्दी आपके Blog पर Traffic नहीं बढ़ेगा तो आप इसको Share कर सकते हैं, लेकिन अगर आपके Blog ये Website पर Traffic बढने लगता है तो आप इसको Share न करें क्योंकि उस समय इस पर लोड बहुत ही ज्यादा हो जाता है और आपका Blog भी बहुत ही धीमा चलने लगता है.

2. Virtual  Private Servers (VPS )

Virtual Private Servers मे Virtualisation तकनीक का इस्तेमाल किया जाता है जिसमे Server के रूप मे फ़िज़िकल Computer System तो एक ही होता है लेकिन Virtually कई हिस्सों मे बंटा हुआ होता है जिस तरह कोई बिल्डिंग है और उसका मालिक एक है लेकिन इसके अंदर जो फ्लेट्स हैं उनका मालिक तो कोई और ही होता है. ठीक उसी तरह VPS एक बिल्डिंग है और इसके बहुत सारे फ्लेटस हैं जिनके अलग-अलग मालिक है. क्योंकि इसमे सारी Websites एक ही Physical Server मे होती है.

3. Dedicated Server Hosting

Dedicated Hosting पर सिर्फ एक ही इंसान का हक होता है क्योंकि इसको हम शेयर नहीं कर सकते हैं लेकिन यह थोड़ी मंहगी hosting हैं और इसके अंदर आप जो भी सुविधाए use करना चाहते हैं वो आप कर सकते हैं. इसके अन्दर  आप जो Server use करोगे वो बहुत ही ज्यादा fast होता है और ये सिर्फ एक ही Website के लिए use होता है.

4. Cloud Web Hosting

ये नई Hosting है जो आज के समय मे सबसे ज्यादा use हो रही है इसकी जो Performance है वो बाकी Hosting से काफी अलग है. इसका हमे ये बेनिफ़िट होता है कि इसके अंदर एक ही साथ बहुत सारे Servers साइट पर काम कर सकते हैं. इतना ही नहीं ये Website को Secure भी रखते हैं. इसके अंदर जब Group मे काम कर सकते हैं तभी इसको Cloud Hosting बोला जाता है और क्या आपने ये भी  Notice किया है कि ज्यादा Server काम करने पर भी इसकी Speed कम नहीं होती है और इसी reason से ये ज्यादा Costly होती है.

Final Words

इस प्रकार हम कह सकते हैं कि हमारे पास Hosting के कुछ प्रकार होते हैं जो हमे Hosting को समझने मे काफी मदद करते हैं हम उम्मीद करते हैं कि आपको हमारा ये artical समझ मे आ गया होगा लेकिन अगर आपको अभी भी कुछ doubt है तो हमे comment कर के पूछ सकते हैं.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*