Ayurvedic NuskheGharelu UpayHealthHealth Tips

शलगम या शलजम से रोगों का इलाज – Turnip in Hindi

विटामिन से भरपूर धरती के अंदर ही पैदा होने वाली यह पर गुणकारी मानी गयी है। विशेष रूप से रोगियों के लिये तो लाभकारी मानी जाती है। शलगम एक शीतकालीन सब्जी है इसका उपयोग हम सब्जी, सलाद या फिर औषधि के रूप में कर सकते है. शलगम के पत्ते को उपयोग सब्जी बनाने में भी किया जाता है. और इसका नीचे का हिस्सा स्लाद के रप में प्रयोग किया जाता है. इसे खाने से इम्युनिटी भी बढती है. यह बहुत से विटामिन से भरपूर होती है. यह बहुत से गुणों से भरपूर होती है. और इसके बहुत से फायदे है. जो निम्नलिखित है.

शलगम या शलजम से रोगों का इलाज – Turnip in Hindi

शलगम या शलजम से रोगों का इलाज
शलगम या शलजम से रोगों का इलाज

शूगर रोग

शूगर रोगियों के लिये शलगम की सब्जी खाना बहुत उपयोगी हुआ है।  क्योंकि इसका स्वाद कड़वा होता है और इसमें मीठा नहीं होता. जिससे शुगर के मरीज की शुगर कंट्रोल रहती है

दाँतों के रोग

दाँतों के रोगों के लिये शलगम के टुकड़ों को मुँह में रखकर चबाते रहें। जिससे मुहँ का स्वाद बदल जाता है. और इसका पाउडर बना कर दांतों की सफाई करनी चाहिए जिससे दांतों का रोग दूर होता है.

अंगुलियों की ऐंठन तथा सूजन

बहुत से लोगों की अँगुलियाँ सूज जाती हैं जिसके कारण वे बहुत चिंतित रहते हैं। इस रोग का उपचार आम डॉक्टरों के पास नहीं है। वे तो रोगियों के लिए और कई प्रकार के वहम डालते रहते हैं। ऐसे रोगियों को:

शलगम – 50 ग्राम
पानी- आधा किलो

इन्हें एक खुले मुँह के बर्तन में रखकर उबालें। थोड़ा नमक डालकर इसे किसी खुले मुँह के बर्तन में डालकर सूजी हुई अँगुलियों को कुछ देर लिये उसमें रखें। दिन में तीन-चार बार ऐसा करने से ऐंठन तथा सूजन दूर हो जाएगी।

खाँसी, दमा

शलगम, बन्दगोभी, गाजर तथा सेब इन सबका रस निकालकर दिन में दो बार पीने से एक मास में दमा रोगी को आराम मिलेगा। और शलगम को उबालकर खाने से खांसी दूर होती है.

वजन कम करने के लिए

शलगम का उपयोग हम सलाद के रूप में करते है जिससे शरीर में हाई फाइबर होता है. जिससे इसमें वजन कम करने का गुण मौजूद होता है.

अपच में उपयोगी

शलगम की सब्जी बना कर खाने से अपच की समस्या दूर होती है. क्योंकि इसमें फाइबर, विटामिन होता है.

आँखों के लिए

शलगम के पत्ते हरे होते है जो आँखों के लिए फायदेमंद होता है. शलगम में ल्यूटिन और जियाजैंथिन नामक दो तत्व पाएं जाते है जो आँखों के लिए बहुत ही उपयोगी माना जाता है.

गर्भावस्था में फायदेमंद

गर्भावस्था के दौरान शलगम का उपयोग करने बहुत ही आवश्यक होता है क्योंकि शलगम एक हरी सब्जी होती है इसका प्रयोग हमें  दोपहर में करना चाहिए.

शलगम के फायदे होने के साथ साथ नुकसान भी होता है-

इसका उपोग में अधिक मात्रा में नहीं करना चाहिए. क्योंकि इससे गैस जैसी समस्या पैदा होती है पेट में ऐंठन भी हो सकती है क्योंकि इसमें फाइबर की मात्रा अधिक पाई जाती है. गर्भावस्था के दौरान शलगम का उपयोग शाम के समय नही करना चाहिए क्योंकि शाम के समय गर्भावस्था के दौरान महिला के पाचने की समस्या होती है इसलिए शलगम का उपयोग नही करना चाहिए.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close