Ayurvedic NuskheGharelu UpayHealthHealth Tips

बादाम से रोगों का इलाज

खुश्कफलों में बादाम का फल मानव शरीर को रोग रहित ही नहीं बल्कि उसके साथ-साथ शाक्तिशाली भी बनाता है। मानव शरीर की दुर्बलता को बादाम के सेवन से दूर कर सकते हैं। यही नहीं जो लोग दिन टिका प्रयोग करते हैं उनकी बुद्धि का सुरक्षा बादाम द्वारा की जा सकती है।  यहाँ पर हम आपको बादाम से रोगों का इलाज के बारे में बताने जा रहे है.

बादाम से रोगों का इलाज

बादाम मानव शरीर के लिये अति उपयोगी है जो निम्नलिखित का शत्रु भी है:

"<yoastmark

दिमागी शक्ति के लिये

रात के समय बादाम की 5 से 12 गिरियाँ 5 वर्ष के बच्चों के लिया 12 गिरियाँ बड़ी आयु के लोगों के लिये रात को पानी में भिगो कर रखने सुबह इनको छील कर 10 से 15 ग्राम मक्खन के साथ प्रतिदिन सेवन करने से शरीर में नयी शक्ति आएगी और आपकी बुद्धि भी तेज़ होगी।

शीघ्र पतन

इस रोग के कारण देश के लाखों युवक हर वर्ष लूटे जा रहें हैं।

मर्दाना कमज़ोरी तथा शीघ्र पतन की आड़ में लोगों ने विशेष रूप से विज्ञापन छाप डॉक्टरो ने खूब धन कमाया है।

जबकि इस रोग का उपचार तो इतना सरल है कि आप स्वयं ही घर पर कर सकते हैं। बादाम उसी उपचार का एक भाग है।

जिन लोगों का वीर्य संभोग से पहले ही स्खलित हो जाता हो उसे मर्दाना कमजोरी अथवा शीघ्र पतन रोग का नाम दिया जाता है। उनके लिये

  1. बादाम की गिरी – 10 नग
  2. काली मिर्च – 10 नग
  3. सोंठ – 3 ग्राम
  4. मिश्री जितनी इच्छा हो

इन सबको मिला कर चबाकर 30 दिन तक खाते रहें तो आपके शरीर में एक नयी शक्ति आ जाएगी।

आप स्वयं अनुभव करने लगेंगे कि अब उन्हें ऐसा कोई रोग नहीं जिसके कारण नारी के पास जाकर लजित होना पड़े।

मासिक धर्म की त्रुटियाँ

नारी रोगों में यह रोग प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है। इस रोग के उपचार के लिये :

बादाम की गिरियाँ  – 2 (दो)
छुहारा                       – 1

इन दोनों को रात के समय भिगो कर रखें। सुबह उठकर इनको छील लें और फिर 25 ग्राम कूजा मिश्री मिला कर अच्छी तरह से पीसकर खा लें।

दो मास तक इसका निरंतर सेवन करने से मासिक धर्म के सब रोग दूर हो जाते हैं।

आँखों के रोग

आँखों के हर प्रकार के रोगों के लिये रात के समय बादाम की पाँच गिरियाँ भिगो कर रख दें और सुबह उठकर उन्हें पीसकर पानी में मिलाकर सेवन करें तो आँखों के हर रोग से मुक्ति मिलेगी।

रात को एक-एक सलाई शुद्ध शहद की आँखों में डालते रहें। इससे शीघ्र स्वास्थ्य लाभ होगा।

दुबलापन

जो लोग अपने शरीर के दुबलेपन के कारण चिंतित हैं उनकी चिंता को दूर करने के लिये :

बादाम की 10 गिरियाँ रात को सोते समय भिगो कर रखें।

सुबह उठकर उन्हें छील कर 50 ग्राम ताज़ा मक्खन और मिश्री के साथ मिला कर दो मास तक सेवन करेंगे तो आपके शरीर की दुर्बलता दूर हो जाएगी।

हड्डियों की कमज़ोरी दूर करें

बच्चा, बूढ़ा या जवान यदि उसकी हड्डियाँ कमज़ोर हों तो पूरा शरीर बेकार हो कर रह जाता है।

इस कमजोरी के कारण अनेक शरीर रोग जन्म ले लेते हैं। जो जीवन की प्रगति के मार्ग का रोड़ा बन जाते हैं। ऐसे में आपके लिये बादाम अच्छा सहयोगी बन सकता है।

बादाम के अंदर चूना अधिक मात्रा में पाया जाता है। इसके साथ ही फास्फोरस तथा लोह तत्त्व भी पाए जाते हैं। यह सब के सब हड़ियों को शक्ति प्रदान करते हैं। यदि अल्प आयु से ही बच्चों को बादाम खिला रहें तो बड़े होकर उन्हें हड्डियों की कमज़ोरी जैसा कोई रोग नहीं लगता।

Final Word

आज इस आर्टिकल में हमने आपको बादामों से रोगों को ठीक करने के बारे में बताया है.

अगर आपको इससे जुडी कोई अन्य जानकारी चाहिए तो आप कमेंट बॉक्स में कमेंट करे.

Related Articles

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close