CDN क्या है और अपनी वेबसाइट पर CDN को कैसे इस्तेमाल करें?

Spread the love

जब भी आप वेबसाइट या ब्लॉगिंग की दुनिया में कदम रखते हैं तो आपको बहुत सारे ऐसे नाम और सर्विस मिलती है जिससे कि आप कई बार Puzzle भी हो जाते हैं. जब से इंटरनेट का आविष्कार हुआ है तब से कुछ न कुछ ऐसी सर्विस और प्रोडक्ट इंटरनेट पर लांच किए गए हैं जिसकी वजह से इस तरह की चीजों को और भी आसान बनाया गया है.  वेबसाइट और ब्लॉगिंग की दुनिया को आसान बनाने के लिए सबसे बड़ा बदलाव वर्डप्रेस के द्वारा आया था जिसकी मदद से कई तरह की परेशानियों को दूर किया जा सका और आज हर एक नॉरमल इंसान अपनी वेबसाइट ऑनलाइन वर्डप्रेस के द्वारा बना सकता है. इसके लिए आपको सिर्फ डोमेन नेम और वेब होस्टिंग की जरूरत पड़ती है इसके बाद में आप अपनी खुद की वेबसाइट ऑनलाइन शुरू कर सकते हैं.  लेकिन ऑनलाइन वेबसाइट शुरू करने के बाद में भी आपको कुछ ऐसे शब्द मिलते हैं जो कि आपके दिमाग को हिला देते हैं उन्हीं में से एक है CDN. अब हम बात करते हैं कि CDN क्या है और अपनी वेबसाइट पर CDN को कैसे इस्तेमाल करें?

Read This -> Web Designing क्या है? Web Design कैसे सीखे?

CDN क्या है और अपनी वेबसाइट पर CDN को कैसे इस्तेमाल करें?

CDN क्या है और अपनी वेबसाइट पर इस को कैसे इस्तेमाल करें?

CDN क्या है?

CDN की फुल फॉर्म की बात करें तो इसकी फुल फॉर्म है कंटेंट डिलीवरी नेटवर्क (Content Delivery Network) मतलब एक इस प्रकार का नेटवर्क जो कि आपको कंटेंट डिलीवर करने में मदद करता है और इसका इस्तेमाल आपके वेबसाइट की लोडिंग स्पीड को बढ़ाने के लिए किया जाता है. अगर आप इसका इस्तेमाल अपनी वेबसाइट या ब्लॉग पर करते हैं तो आपके यूजर आपके वेबसाइट पर आसानी से visit कर सकते हैं और इसके अलावा यह आपके नजदीकी डाटा सेंटर से कनेक्ट करवाकर आपके वेबसाइट को ज्यादा जल्दी Open करने में भी मदद करता है.

Read This -> सही Domain Name कैसे खरीदे?

Read This -> Domain Name क्या है और यह कितने प्रकार के होते हैं?

CDN कैसे काम करता है?

जब भी कोई विजिटर आपके वेबसाइट पर जाता है तो वहां से एक रिक्वेस्ट आपके वेब सर्वर पर जाती है जिसकी मदद से यूजर को रिटर्न में डाटा दिखाया जाता है. इस दौरान यूजर के द्वारा भेजी गई रिक्वेस्ट उस वेब सर्वर के डाटा सेंटर पर होती है जिस पर भी आपने वेब सर्वर का डाटा सेंटर सिलेक्ट किया होता है. मानकर चलते हैं कि आपने इंडिया में ही वेबसाइट का डाटा सेंटर सेलेक्ट किया है तो जब भी आपकी वेबसाइट किसी बाहर देश में Open की जाती है तो आपकी वेबसाइट की लोडिंग स्पीड ज्यादा हो जाती है जिसकी वजह से आपके वेबसाइट पर बाहर के लोग ज्यादा विजिट नहीं कर पाते हैं. लोडिंग स्पीड बढ़ने के साथ-साथ और विजिटर बढ़ने के साथ-साथ आपके Server पर भी लोड बढ़ जाता है जिसकी वजह से आपको कई तरह के परेशानी हो सकती है या आपका Server क्रैश होकर आपकी वेबसाइट पर भी काफी नुकसान हो सकता है.

इस दौरान अगर हम CDN का इस्तेमाल करते हैं तो यह हमारे Server से डाटा उठाकर अलग अलग डाटा सेंटर पर भेजता है जिससे कि यूजर के लोकेशन के हिसाब से उसका डाटा सेंटर सिलेक्ट करके उसको कंटेंट डिलीवर किया जा सके और उस यूजर को उसके नजदीकी Server से जोड़कर उसको Server से रिस्पांस दिया जा सके. इस वजह से आपकी वेबसाइट की लोडिंग की स्पीड बढ़ जाती है और इसके साथ-साथ आपके इमेजेस और वीडियो जल्दी लोड होने लगते हैं.

Read This -> Web Hosting क्या होती है?

Read This -> अपने Domain Name को Hosting से कैसे जोड़े?

Read This -> Web Hosting कैसे खरीदे?

CDN इस्तेमाल करने के फायदे

ऊपर हमने कुछ एक फायदों के बारे में तो आपको बता ही दिया है अब हम आपको एक एक करके सभी फायदों के बारे में बता देते हैं कि CDN इस्तेमाल करने के क्या-क्या फायदे हैं.

वेबसाइट की स्पीड बढ़ जाती है

अगर आप CDN का इस्तेमाल करते हैं तो आपके वेबसाइट की लोडिंग स्पीड बढ़ जाती है और आप के विजिटर बार-बार आपके वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं.

Sever को ओवरलोड होने से बचाता है.

CDN सर्विसेज से आपको Server को ओवरलोड होने से बचाने में भी मदद करता है. ब्लॉगिंग के दौरान आपके Server का क्रैश होना आम बात है क्योंकि जब भी आप के विजिटर की संख्या ज्यादा होती है तो आपके Server की लोडिंग स्पीड भी कम हो जाती है और इसके दौरान आपका Server भी क्रैश हो सकता है. CDN की मदद से आप अपने Server की लोडिंग स्पीड करने के साथ-साथ यूजर को बार-बार दिखाए जाने वाले डाटा को स्टोर करके अपनी वेबसाइट के बैंड विथ को भी कंट्रोल कर सकते हैं जिसकी वजह से आपके वेब सर्वर लोड ज्यादा नहीं होता है.

ट्रैफिक ज्यादा आने लगता है

जब आपके वेबसाइट की स्पीड ज्यादा होती है तो यूजर आपके वेबसाइट के अलग-अलग पेज को ओपन करने की भी कोशिश करता है. अगर आपके वेबसाइट की लोड बहुत ही ज्यादा है तो यूजर आपके वेबसाइट पर कंटेंट दिखाने से पहले ही Exit हो सकता है या फिर आपके वेबसाइट का दूसरा पेज ओपन नहीं कर पाता है इसी वजह से अगर आप CDN का इस्तेमाल करते हैं तो आप की वेबसाइट पर ज्यादा ट्रैफिक भी आने लगता है.

Read This -> Web Designing क्या है? Web Design कैसे सीखे?

CDN इस्तेमाल करने के लिए बेस्ट सर्विस

अगर मैं फ्री सर्विस की बात करूं तो सबसे बढ़िया सर्विस Cloudflare दे रही है जिसमें आपको फ्री में अनलिमिटेड वेबसाइट होस्ट कर सकते हैं. इसमें आपको SSL सर्टिफिकेट और भी options मिलते है जिसकी मदद से आप अपने वेबसाइट के ट्रैफिक लोड को भी कम कर सकते हैं. यह फ्री सर्विस है इसके अलावा Pro प्लान भी इस्तेमाल कर सकते हैं जिसकी मदद से आप को एक्स्ट्रा सिक्योरिटी और कई फीचर भी मिल जाते हैं.

अपनी वेबसाइट पर CDN का इस्तेमाल कैसे करें?

  • अपनी वेबसाइट पर CDN का इस्तेमाल करना बहुत ही आसान है.
  • इसके लिए आपको सबसे पहले Cloudflare पर अपना एक अकाउंट बनाना होगा और उस अकाउंट में आपको अपना Domain Name डालकर वहां से आपको Name Server अपने Domain Account में अपडेट करना होगा.
  • इसके बाद में करीबन 15 मिनट के बाद आपके वेबसाइट आपके Cloudflare अकाउंट से होकर शुरू हो जाएगी.
  • अब आप अपने वेबसाइट को CDN के द्वारा ओपन कर सकते हैं और यहां पर आपको आपके विजिटर की डिटेल और डाटा ट्रांसफर और बैंडविथ के बारे में भी पूरी इंफॉर्मेशन दे दी जाती है.
  • CDN इस्तेमाल करना बहुत ही आसान है, इसके लिए आपको सिर्फ Cloudflare के द्वारा बताए गए इंस्ट्रक्शन को फॉलो करना होगा.

Check Out -> महापुरुषों की जीवन गाथा

Final Word

आज इस आर्टिकल में हमने आपको CDN क्या है और अपनी वेबसाइट पर CDN का इस्तेमाल कैसे करें? के बारे में बताएं अगर आपको इसके बारे में कुछ और जानना है तो आप नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में भी कमेंट करके पूछ सकते हैं.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*